School Teacher कैसे बनें तथा इसकी योग्यता, कोर्स, नौकरी के बारें में पूरी जानकारी

School teacher kaise bane sakari हमारें देश और समाज में गुरु को बहुत ही बड़ा दर्जा दिया गया है। गुरु यानि शिक्षक (teacher) यह हमारें जीवन का वह व्यक्ति होते है, जिन्होने हम सभी को इस तरह शिक्षा प्रदान की है, जिससे हम किसी भी चीज के बारें में जानते है, उसे समझते है, उसकी कल्पना करते है और सही और गलत का ज्ञान हमें गुरु (teacher) ही सिखाते है।

स्कूल टीचर कैसे बनें और इसका कोर्स कैसे करें | how to become a teacher information in hindi

इस आर्टिकल में हम आपको स्कूल टीचर कैसे बनें और इसका कोर्स कैसे करें | how to become a teacher information in hindi के बारें में पूरी जानकारी के साथ जानने वालें है। आप अभी शिक्षा प्राप्त कर रहें है

और भविष्य में अपना कैरियर School teacher के रूप में बनाना चाहते है तो हम आपके साथ कुछ ऐसी अहम जानकारी साझा करने जा रहें है, जिससे आपको School teacher बनने में बहुत हद तक मदद मिल सकती है और आप एक सफल School teacher बन सकते है।

स्कूल शिक्षक कौन होता है | who is school teacher in hindi

यह वह व्यक्ति होते है जिन्हे गुरु का दर्जा दिया जाता है और वह प्राइमरी, सेकेंड्री या सीनियर सेकेंड्री लेवल पर किसी पब्लिक या प्राइवेट स्कूल में पढ़ाने का काम करते है और अपना शैक्षणिक ज्ञान-बुद्धि का इस्तेमाल करके बच्चों को स्कूल में पढ़ाने का काम करते है। सभी School teacher का अलग-अलग पसंदीदा विषय होती है, जिसमें वह अधिक रुचि रखते है।

जिससे वह अपनी पसंदीदा विषय की बातों को दूसरे स्टूडेंट्स के साथ साझा करते है और उस विषय से संबधित बातें दूसरों तक पहुंचाने का काम करते है। जिससे स्टूडेंट को इसके बारें में पता चल जाती है। जिस तरह हर एक स्टूडेंट का अलग-अलग विषय पढ़ना अधिक पसंद होता है, उसी तरह teacher भी अपने favorite subject को पढ़ना पसंद करते है और पढ़ाते है।

सरकारी शिक्षक के प्रकार | types of government teacher in hindi

Government teacher को तीन तरह के भागों में बाँटा गया है जो निम्नलिखित है:-

  • PTR (primary teacher)
  • TGT (trained graduate teacher)
  • PGT (post graduate teacher)

Primary teacher यह वो teacher होते है जो primary school में Class 1 से 5 तक के students को पढ़ाते है। एक प्राइमरी टीचर बनने के लिए आपको D.El.Ed का course करना होता है, जिसमें passing marks 50% से अधिक होनी चाहिए, उसके बाद आप vacancy निकलने के बाद application दे सकते है।

Trained graduate teacher यह वो टीचर होते है जो Middle school में class 6 से 10 तक के स्टूडेंट्स को पढ़ाते है। एक मिडिल स्कूल टीचर बनने के लिए आपको D.El.Ed या B.Ed course करना होता है। जिसमें आपको कम से कम passing marks 50% से अधिक होनी चाहिए, उसके बाद आप vacancy निकलने के बाद application दे सकते है।

Post graduate teacher यह वो टीचर होते है जो High school में class 11 से 12 तक के स्टूडेंट्स को पढ़ाते है। एक हाई स्कूल टीचर बनने के लिए आपको B.Ed course करना होता है। जिसमें आपको कम से कम passing marks 50% से अधिक होनी चाहिए, उसके बाद आप vacancy निकलने के बाद application दे सकते है।

स्कूल टीचर कैसे बनें | how to become a teacher information in hindi

आप भी अपना कैरियर एक educated teacher के रूप में बनाना चाहते है और समाज में पुण्य का काम करना चाहते है और दुनिया की नज़र में खुद को एक teacher के रूप में अधिक मान-सम्मान पाना चाहते है और भारत सहित दुनिया में शिक्षा का विकास करना चाहते है तो school teacher आपके लिए एक बहुत ही बढ़िया career option में से एक है।

Read :  12th ke Baad Kya kare? (Career Opportunities After 12th in Hindi)

जब आप एक teacher बनने की सोचते है और अपना career school teacher के रूप में बनाने की सोचते है तो उससे पहले आपको कई तरह में महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान देना होता है, जिससे आप एक अच्छा और सफल स्कूल टीचर बन सकते है। यहाँ हम आपके साथ कई ऐसी बातें साझा करने जा रहें है जिसे आपको एक school teacher बनने से पहला इसे करना होगा।

12वी. की पढ़ाई पूरी करें

आप अगर अभी 12वी. या उससे पिछली क्लास की ही पढ़ाई कर रहें है और आप भविष्य में अपने teacher की तरह दूसरे students को एक school teacher के रूप में पढ़ना चाहते है और school teacher job में अपना कैरियर बनाना चाहते है तो आपको सबसे पहले 12वी. Class किसी भी स्ट्रीम के साथ लगभग 45% से अधिक मार्क्स लाकर पास करना होगा।

आपको बता दे, जब 10th class pass करने के बाद जब Math, Bio, Arts और Commerce में से किसी भी स्ट्रीम में अपने पसंदीदा विषय के बारें में अधिक पढ़ना चाहते है उसी विषय का स्कूल टीचर बनना चाहते है तो आपको उसी स्ट्रीम के साथ 12th class में admission लेना होगा, जिससे आपको आगे किसी भी तरह का परेशानी नही हो।

पसंदीदा विषय पर बैसिक अध्यन करें

इस पॉइंट से मेरा मतलब यह है कि आप जिस भी विषय के बारें में अधिक जानना और उसे पढ़ना चाहते है उसक Basic knowledge अधिक रखें, जिससे आप students के बीच इन शुरुआती बातों को बता सकते है। मान लेते है आपका पसंदीदा विषय गणित है आपको Class 1 से 10 तक अलग-अलग books के question और उसका answer के बारें में पता होनी चाहिए।

बहुत सारें लोग school teacher बनने के ख्याल से school के syllabus पर ही अधिक ध्यान नही देते है, जिससे वह एक अच्छा teacher के रूप में नही गिने जाते है। इसलिए आपको जिस विषय का teacher बनना है और उसमें सबके सामने best देना है

तो आपको इसका basic level syllabus को अधिक से अधिक strong और उसमें अपना पकड़ बनाना होगा, जिससे जब भी कोई भी student आपसे उसके बारें में कही से भी पूछ दे, तो आप उनको तुरंत बता सकते है।

पसंदीदा विषय के साथ graduation करें

आपने 12th class में जिस स्ट्रीम के साथ इसकी पढ़ाई की है और इस कक्षा को सफल तरीके से पास किया है, उसके बाद आपको उसी सब्जेक्ट के साथ graduation की पढ़ाई करनी होगी। मेरे कहने का तात्पर्य यह है कि आपको B.sc, B.com और B.A Graduation course में उसी सब्जेक्ट के साथ करें। जिससे आप teaching से संबधित Diploma या bachelor degree course को कर सकते है।

मान लेते है अपने Science के साथ 12th class pass की है तो आपको B.sc में Admission लेना होगा। तो उसी तरह Commerce student B.com और Arts students B.A में Admission ले सकते है। अपनी graduation की पढ़ाई करने के साथ-साथ आप टीचर बनने योग्य के लिए इससे संबधित कोर्स भी कर सकते है।

D. El. Ed या B. Ed कोर्स करें

D.El.Ed का full form Diploma in Elementary Education तो वही B.Ed का full form bachelor of education होती है। अगर आप एक teacher का गुण सीखना चाहते है और भविष्य में Private या Government school teacher बनना चाहते है तो आपको इन दोनों में से किसी एक कोर्स को अवश्य करना होगा।

Read :  घर बैठे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए How to earn money sitting at home

अगर आप अपने State government के अधिक सरकारी टीचर बनना चाहते है तो आपको Diploma in Elementary Education यानि D.El.Ed का कोर्स करना होगा इसे 12th पास करने के बाद किया जा सकता है। यह कोर्स को करने में पूरे दो साल तक का समय लग जाती है। इस डिप्लोमा कोर्स को पूरी करने के बाद आप State Government teacher vacancy के लिए Apply कर सकते है।

तो वही अगर आप Central government के अधिक teacher की job करना चाहते है तो आपको Bachelor of education यानि B. Ed course को करना होगा। उसके बाद ही आप central government school teacher vacancy का form fill करने के लिए ही eligibility होते है।

कुछ वर्षों से देखा जा रहा है कि State government भी teacher vacancy में D. El. Ed डिग्री वालें students से अधिक B. Ed degree वालें students को अधिक eligibility देती है। इसलिए भविष्य को देखते हुये आपको B. Ed course ही करना चाहिए।

इस course को graduation की पढ़ाई पूरी करने के बाद 50% से अधिक marks लाने वालें स्टूडेंट्स कर सकते है। यह कोर्स पूरे दो साल की होती है जिसमें पूरे 4 semester होती है। B. Ed में आपको एक अच्छा टीचर कैसे बने और बच्चो को किस तरह से पढ़ाया जाये कि पढ़ाई interesting हो जाये, जैसी बातों को बताई जाती है।

CTET या TET Entrance Exam पास करें

जब आप D.El.Ed या B. Ed course को 50% से अधिक मार्क्स लाने के बाद कंप्लीट कर इसका डिग्री हासिल कर लेते है तो उसके बाद आपको एक government teacher बनने के लिए आपको CTET (Central Teacher Eligibility Test) या TET (Teacher Eligibility Test) entrance exam को cracked करना होगा। उसके बाद आप इसके government teacher job के लिए eligibility होते है।

CTET को central government of India के द्वारा हर साल entrance exam ली जाती है। जिसे पास करने के बाद केंद्रीय विद्यालय शिक्षक बनने के लिए आवेदन दिया जा सकता है तो वही भारत का हर राज्य हर साल TET इसे STET के नाम से भी जाना जाता है इसका entrance exam हर साल राज्य सरकार द्वारा आयोजित की जाती है। इसे पास करने के बाद राज्य शिक्षक बनने के लिए आवेदन दिया जा सकता है।   

स्कूल टीचर की नौकरी | school teacher job vacancy

जब आप D.El.Ed या B.Ed degree कोर्स करने के बाद एक शिक्षक के रूप में नौकरी की तलाश करते है तो आप अपनी हुनर के दम पर नौकरी पा सकते है। अगर आप एक सरकारी टीचर बनने की चाह रखते है और competition में हिस्सा  लेना चाहते है तो आपको इस कोर्स को करने के बाद जब भी CTET या TET Entrance Exam का Application date आये तो आपको इसका form fill करना होगा।

उसके बाद आपको इसका पढ़ाई करने के बाद entrance exam देना होगा, जिसमें अगर आप पास हो जाते है तो आपको school teacher के रूप में जॉब मिल जायेगी, लेकिन इसे पास करने के लिए आपको बहुत सारा मेहनत करना होगा और हर तरह सवाल पर अपनी पकड़ बनानी होगी।

अगर आप government school के अलावा private school में अपनी काबिलियत के आधार पर जॉब पाना चाहते है तो आपको school में जाकर इसके लिए बात करनी होगी या application देने के बाद interview पास करना होगा, अगर आप इसे पास कर जाते है तब आप अपने हुनर और काबिलियत के दम पर स्कूल टीचर बन सकते है।

एक टीचर के तौर पर आपको कई सरकारी या प्राइवेट स्कूलों में, केंद्र सरकार द्वारा फंडेड इंस्टीट्यूट, राज्य सरकार द्वारा फंडेड इंस्टीट्यूट, निजी तौर पर या पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) फंडेड  हायर एजुकेशन इंस्टीट्यूट, मल्टीमीडिया स्कूल, स्कूलों के अलावा निजी कोचिंग इंस्टीट्यूट, वोकेशनल ट्रेनिंग  सेंटर, ई-लर्निंग कंपनियां

Read :  Polytechnic Karne Ke Baad Kya Kare | What to Do After Polytechnic in Hindi

या विदेशों में रहने वाले स्टूडेंट्स के लिए वेब पोर्टल के माध्यम से सवालों को हल करने के लिए सब्जेक्ट मैटर एक्सपर्ट आदि जैसे रोज़गार के अनगिनत अवसर मिलेंगे। टीचिंग लाइन में अच्छा अनुभव हासिल करने के बाद आप कॉर्पोरेट ट्रेनिंग वर्कशॉप आयोजित करने वाले ट्रेनर के तौर पर भी काम कर सकते हैं।

स्कूल टीचर का मुख्य ज़िम्मेदारी क्या होती है

जब आप एक school teacher बन जाते है तो आपको कई तरह की ज़िम्मेदारी लेनी पड़ती है और उसे निभारी पड़ती है। आप एक अच्छे शिक्षक बनना चाहते है तो आपको इस बात पर अधिक जोड़ देना होगा कि पढ़ाई को इंट्रेस्टिंग कैसे बनाया जाए, जिससे स्टूडेंट्स को अधिक समझ में आयें। यहाँ school teacher की कुछ ऐसी भूमिका बताई गई है, जिसे आपको निभारी पड़ेगी:-

  • आपको एक school teacher के रूप में स्कूल में एक या कई विषय के बारें में पढ़ाने का कार्य दिया जा सकता है, जिसे आपको स्थानीय भाषा में स्टूडेंट्स को समझाना होगा।
  • आपको कई तरह के समझाने और पढ़ाने के तरीकों को काम में लेना होगा ताकि हर स्टूडेंट को आपकी बात अच्छे तरीके से समझ आ सके।
  • आपको अपने टीचिंग शेड्यूल और स्कूल सिलेबस के हिसाब से पहले से ही स्टडी मटेरियल तैयार रखना पड़ेगा।
  • आप अपने स्टूडेंट्स को होमवर्क भी देंगे और ऐसे होमवर्क की ग्रेडिंग भी करेंगे।
  • आप स्कूल के नियमों के मुताबिक अटेंडेंस रजिस्टर को अपडेट करेंगे और सटीक स्टूडेंट रिकॉर्ड भी मेंटेन करेंगे।
  • आप नियमित तौर पर (साप्ताहिक या हर महीने) क्लास टेस्ट लेंगे और स्कूल के एक्ज़ाम्स के वक्त निरीक्षण (इनविजिलेटर) भी करेंगे।
  • आप अपने साथ काम करने वालों (दूसरे टीचर्स और स्टाफ मेंबर्स) के साथ मिलकर काम करेंगे और स्कूल के डवलपमेंट, कोर्स की प्लानिंग, ट्रेनिंग वर्कशॉप, क्लास के लिए इक्विपमेंट (उपकरण), नए टीचरों की भर्ती, एनुअल फंक्शन आदि के बारे में बातचीत और मीटिंग में भी शामिल होंगे।

गवर्नमेंट टीचर सैलरी | Government teacher salary

टीचर कई तरह के होते है, उनकी योग्यता और उनका कार्य अनुभव भी अलग-अलग होती है। जिससे teacher की salary भी अलग-अलग होती है। अगर हम किसी private school teacher salary की करें तो उनकी योग्यता और experience के आधार पर सैलरी तय की जाती है।

अगर आप पहली बार किसी प्राइवेट या गवर्नमेंट स्कूल में आपकी जॉब लगती है तो आपकी एंट्री लेवल नौकरी में आपको कम से कम 10 हजार से 15 हजार रुपया या इससे ज्यादा मिल सकती है। आपके पढ़ाने का 1 से 6 साल तक का अनुभव हो जाती है तो आपकी salary में भी वृद्धि देखने को मिल जाती है। इसके बाद आपका मासिक वेतन 15 हजार से 25 हजार रुपया या उससे अधिक हो सकती है।

इसी तरह आपका experience जितना अधिक बढ़ते जायेगा, आपका पोस्ट और सैलरी भी अधिक बढ़ती ही जायेगी। जब आप कई साल स्कूल टीचर के रूप में कार्य कर 12 से 20 साल का अनुभव प्राप्त कर लेते है तो आपको ऊँची पोस्ट पर नौकरी पर लगाया जाता है, जिससे आपका मासिक वेतन 35 हजार से 90 हजार या इससे भी अधिक हो सकती है।

अंतिम शब्द

आपने इस Article में How to become a Government Teacher full information in hindi, Government Teacher कैसे बने Full Details Information in hindi के बारें में जाना। आशा करता हूँ आपको यह जानकारी पसंद आई होगी।

आपको लगता है कि यह Information सबके साथ Share करनी चाहिए तो इसे Social Media Facebook, Whatsapp इत्यादि पर अवश्य Share करें। शुरू से अंत तक इस Article को Read करने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया…

 

5 thoughts on “School Teacher कैसे बनें तथा इसकी योग्यता, कोर्स, नौकरी के बारें में पूरी जानकारी”

  1. आप हमेशा ही बहुत अच्छी जानकारी शेयर करते है यह जानकारी मेरे लिए बहुत ही फायदेमंद है इसके लिए आपका बहुत बहुत आभार है भाई

    Reply
    • हमारी थोड़ी भी पहल से किसी का फायदा हो रही है तो हम धन्य है।
      शुक्रिया फीडबैक देने के लिए।

      Reply
      • भाई आपका कंटेंट सबसे अलग होता है मैंने आपको ब्लॉग के बहुत सारे आर्टिकल पड़े है अच्छा लगा। वैसे मैं भी एक ब्लॉगर हूँ और आपका हर आर्टिकल पढ़कर मुझे बहुत अच्छा लगता है

        Reply

Leave a Comment