पुष्पम प्रिया चौधरी की जीवनी | Pushpam priya chaudhary biography in hindi

Pushpam Priya Chaudhary Wikipedia in Hindi इस आर्टिकल में हम आपको Bihar CM Candidate की दावेदार कहने वाली एक युवती जिनका नाम Pushpam Priya Chaudhary है। जो बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में खुद को बिहार का CM Candidate बताकर चुनाव लड़ने वाली है।

पुष्पम प्रिया चौधरी की जीवनी | Pushpam priya chaudhary biography in hindi

यह बिहार और भारत के लोगों की नज़र में तब आई जब, इन्होने बिहार के सभी newspaper में 2 Page का बहुत बड़ा विज्ञापन पहली और दूसरी पेज पर दिलवाई। इससे पहले अधिकतर लोग Pushpam Priya Chaudhary के बारें में नही जानते थे, लेकिन अब यह बहुत तेजी से बिहार के लोगों के साथ जुड़ रही है और अपने साथ लोगों को जोड़ने में जुटी हुई रहती है।

जैसा की आप जानते है कि बिहार भारत के अन्य राज्य से पिछड़ा हुआ है इसका मुख्य कारण बिहार में रोजगार, शिक्षा, आत्मबल इत्यादि का नही होना है। बिहार की इस दशा को करने वालें उन राजनीतिक लोगों का हाथ है जो बिहार में पिछले कई दशक से राज करते आ रहे है और बिहार के विकास के नाम पर बस इसे भष्टाचार के रूप में लूटने में ही रहते है।

Pushpam Priya Chaudhary कहते है कि उनको बिहार और देश की राजनीतिक से कुछ भी लेना देना नही है। उनका मूल मंत्र है बिहार में विकास करना और बिहार को भारत में सबसे बड़ा विकसित राज्य के रूप में लाना है।

वह यह भी महत्वपूर्ण और बिहार की भलाई के लिए बात किए है कि अगर उन्हे वर्ष 2020 बिहार विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पद बिहार की करोड़ो जनता देती है तो वो बिहार को वर्ष 2025 तक भारत का सबसे विकसित राज्य बना देंगी और 2030 बिहार का development progress London, USA के जैसा करके दूँगी।

सच में इस शिक्षित युवती की बातों पर विश्वास करने लायक है, क्योंकि यह बिहार की पहली ऐसी Youth CM candidate है जो सबसे अधिक educated है। बिहार का विकास का द्वार खुलने का उम्मीद बस इनसे ही रख सकते है।

अधिक development वहीं होती है जहाँ development का बहुत बड़ा Gap रह गया हो और बिहार उन्ही में से एक है जहाँ विकास का बहुत बड़ा हिस्सा पीछे छुट गया है। जो बिहार पूरी दुनिया को नालंदा यूनिवर्सिटी से शिक्षित करता था आज वही भारत में ही सबसे पिछड़ा हुआ है। बस पुरानी बातें को ही हौसला बनाकर रख दिया जाता है।

पुष्पम प्रिया चौधरी की जीवनी | Pushpam priya chaudhary biography in hindi

बिहार और भारत के लोग इस Youth CM candidate of Bihar के बारें में अधिक जानकारी जानना चाहते है, इसलिए हमने इनकी सारी जीवन की अब तक की संघर्ष और उसकी कहानी को cover किया है। आप भी इस Biography of Pushpam Priya Chaudhary को पढ़कर उनके बारें में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Read :  सभी तरह के सर्च इंजन का नाम (Best All Type Search Engine Name in Hindi 2020)

Pushpam Priya Chaudhary early life in hindi

पुष्पम प्रिया चौधरी का जीवन बिहार के दरभंगा जिले में वर्ष 13 जून 1994 को हुआ था। उनके पिता का नाम विनोद कुमार चौधरी है। उनके पिता का भी अपना राजनीतिक जीवन रहा रहा है वह जनता दल यूनाइटेड से विधायक भी रह चुके है।

पूरा नाम  पुष्पम प्रिया चौधरी
पिता का नाम विनोद कुमार चौधरी
जन्म 13 जून 1994
जन्मस्थान दरभंगा, बिहार
शिक्षा M.A. लंदन स्कूल ऑफ इक्नोमिक्स 
राजनीतिक पार्टी  Plurals
स्थापना 2019
पार्टी अध्यक्ष स्वयं
भाई-बहन दो बहन
ये छोटी
Social Account 
Facebook, Twitter, Instagram YouTube, Telegram, Linkdein
Toll free no.
1800-313-0082
website

www.pushpampc.com  www.plurals.org

Pushpam Priya Chaudhary का बचपन का अधिकतर दिन दरभंगा में ही बिता था। इनका प्रारंभिक पढ़ाई बिहार में ही हुई थी। उसके बाद उन्होने आगे की पढ़ाई करने के लिए बिहार से बाहर चली गई थी और वहाँ जाकर उन्होने आगे का एडुकेशन हासिल किया।

Pushpam Priya Chaudhary Education

जैसा की हमने आपको पहले ही बताया कि Pushpam Priya Chaudhary का प्रारंभिक पढ़ाई बिहार में ही हुई थी। उसके बाद उन्होने आगे की पढ़ाई करने के लिए बिहार से बाहर चली गई थी। वो बचपन से ही बिहार के लिए कुछ बड़ा करना चाहती थी इसके लिए उन्होने बचपन से ही इसकी शुरुआत कर दी थी।

उन्होने इसके बाद आगे की पढ़ाई करने के लिए united kingdom चली गई और उन्होने वहाँ University of Sussex से development Studies में graduation की degree हासिल की

और फिर दुनियाभर में प्रसिद्ध London school of economics and political science से विषय शासन, लोकतंत्र और विकास अर्थशास्त्र (Governance, Democracy and Development Economics) की पढ़ाई और इसपर research की।

LSE में, उन्होंने राजनीति विज्ञान, राजनीतिक दर्शन, सार्वजनिक प्रशासन, अर्थशास्त्र, सार्वजनिक नीति, सामाजिक नीति और राजनीतिक संचार के लिए दर्शनशास्त्र का अध्ययन किया। उन्हें पेरिस में प्रतिष्ठित विज्ञान पीओ में दोहरी डिग्री के लिए अपना दूसरा साल पूरा करने का अवसर भी दिया गया था, लेकिन उन्होंने एलएसई में रहने का फैसला किया – “एलएसई में शिक्षण और अनुसंधान उत्कृष्ट है

Pushpam Priya Chaudhary इस विषय पर अधिक research करती रही कि जो देश दुनिया को शिक्षित करने वाला राज्य और दुनिया का पहला Nalanda University देने वाला आज खुद भारत में ही शिक्षा में सबसे पिछड़ा राज्य बन चुका है। उन्होंने दुनिया भर में प्रभावी नीतियों और बिहार और भारत की विफल नीतियों के बारे में शोध किया।

Pushpam priya chaudhary political entry

पुष्पम प्रिया चौधरी ने 8 मार्च 2020 को सक्रिय राजनीति में प्रवेश किया जब उन्होंने एक पूर्ण-पृष्ठ विज्ञापन में बिहार के मुख्यमंत्री पद के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की, जो बिहार के कई हिंदी और अंग्रेजी अखबारों में छपी।

Pushpam priya chaudhary political entry

विज्ञापन में उन्होंने पुष्पम प्रिया चौधरी के खुद के द्वारा शुरू की गई एक राजनीतिक पार्टी के अध्यक्ष के रूप में उल्लेख किया है। विज्ञापन में, इन्होने बिहार के लिए विकास का वादा किया और लोगों से प्रतिष्ठान के खिलाफ मतदान करने को कहा। इसके साथ ही उन्होने लोगों से अपील किया कि बिहार के विकास के लिए अधिक से अधिक लोग हमारे साथ जुड़े।

Read :  हंता वायरस क्या है उसके लक्षण, कारण, इलाज़, रोकथाम, बचाव

Pushpam Priya Chaudhary Political Party

पुष्पम प्रिया चौधरी ने अपनी एक नई राजनीतिक पार्टी की स्थापना की, जिसका नाम उन्होने Plurals की स्थापना की, जिसका Plurals Party of president खुद को बनाई। PLURALS political party का चुनाव चिन्ह यानि Plurals Logo एक सफ़ेद घोड़ा है जिसके सफ़ेद पंख है।

ग्रीक मिथक में इसे पेगासस के नाम से जाना जाता है। ये घोड़ा ज़मीन पर दौड़ने के साथ-साथ आसमान में उड़ भी सकता था। इसे शक्ति और तीव्रता का प्रतीक माना गया है। जो लाइनें पुष्पम प्रिया चौधरी ने अपनी पार्टी के लिए इस्तेमाल की हैं, उनमें भी गति और उड़ने का ज़िक्र की है।

उनके उच्च शिक्षा के दौरान उन्हे कई बड़ी-बड़ी कंपनी से जॉब ऑफर किया गया, लेकिन उन सभी कंपनियों को जॉब का ऑफर ठुकड़ा दिया, क्योंकि उनका बचपन का सपना था बिहार और देश के लिए कुछ बड़ा करना और इस खराब सिस्टम को खतम कर बिहार को समृद्ध बनाना है। यह रहती तो लंदन में थी, लेकिन इनका नज़र हमेशा बिहार के प्रगति के रिसर्च पर ही रही।

Pushpam Priya Chaudhary Mission in hindi

Plurals का अजेंडा बिहार का सम्पूर्ण बदलाव है। देश के सभी विकास मानकों पर बिहार सबसे निचले रैंक पर है। ये रैंक सिर्फ़ संख्यात्मक नहीं हैं बल्कि एक अमानवीय और अस्वीकार्य माहौल को व्यक्त करते हैं जिसमें एक बड़ी जनसंख्या रहने को विवश है। यह दुखद स्थिति सिर्फ़ और सिर्फ़ अक्षम व नाकाबिल सरकार के कारण है।

प्लुरल्स का लक्ष्य एक ज़िम्मेदार सरकार के रूप में चुने जाने का है जो सही अर्थों में लोगों का प्रतिनिधित्व करे और उनके प्रति उत्तरदायी हो। उसके बाद यह मज़बूत संस्थाओं का निर्माण और बेहतर पॉलिसी का कार्यान्वयन करेगा

ताकि लोगों को उनके सामाजिक-आर्थिक स्थिति से निरपेक्ष सक्षम पब्लिक सर्विसेज़ मिल सकें। प्लुरल्स ज़बरदस्ती थोपे गए आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक विषमताओं के विरूद्ध लड़ेगा और एक ऐसे बिहार का निर्माण करेगा जहां हर एक ज़िंदगी निस्सन्देह समान रूप से क़ीमती हो।

इनका मिशन बिहार की मरणासन्न अर्थव्यवस्था पुनर्जीवित कर एक नये बिहार की रचना करनी है जो उत्पादन (प्रोड्यूस) करे, नवाचार (इनोवेट) करे और निवेश (इन्वेस्ट) करे ताकि यह 2025 तक देश में सबसे बेहतर शासित व विकसित राज्य बन सके तथा 2030 तक विश्व के सर्वश्रेष्ठ निवास स्थानों में एक हो सके। प्लुरल्स यह कार्य साक्ष्य-आधारित पॉलिसी निर्माण के माध्यम से करेगा जो पॉज़िटिव व प्रोग्रेमेटिक पॉलिटिक्स पर आधारित होगा।

Pushpam Priya Chaudhary Facts in hindi

  • पुष्पम प्रिया चौधरी का जन्म बिहार के दरभंगा में 13 जून 1994 को हुई थी।
  • उनके पिता का नाम विनोद कुमार चौधरी है।
  • इनका प्रारंभिक पढ़ाई बिहार में ही हुई थी उसके बाद वे बिहार से बाहर पढ़ने के लिए चली गई थी।
  • उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए पुष्पम ने यूनाइटेड किंगडम चली गई, जहाँ से वे London school of economics से Double M.A. की पढ़ाई पूरी की।
  • इनके राजनीतिक पार्टी का नाम plurals है जिसका वे अध्यक्ष है।
  • बिहार की राजनीतिक में यह सबसे कम उम्र की CM Candidate है और सबसे अधिक शिक्षित, कर्मठ भी है।
  • इनके अनुसार अगर इन्हे बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में मुख्यमंत्री बना दिया जाता है तो यह 2025 तक बिहार को भारत का सबसे विकसित राज्य और 2030 तक यूरोपिय देश जितना विकसित बना देगी।
  • इनका मानना है यह पॉलिटिक्स में एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने नही आये है, बल्कि मूल सिद्धान्त ही विकास है।
Read :  CoronaVirus se bachne ki dua | कोरोना वायरस से कैसे बच सकते है उसका दुआ

How to join plurals party in bihar in hindi

अगर आप भी बिहार के विकास के क्रांति में plurals के साथ जुड़कर हिस्सा लेना चाहते है तो आप इनसे बड़ी से आसानी से जुड़ सकते है। बस आपको Plurals party के official website पर Membership वालें page पर क्लिक करके form fill करके जुड़ा जा सकता है।

पुष्पम प्रिया चौधरी से संबन्धित अक्सर पुछे जाने वालें सवाल :-

Question पुष्पम प्रिया चौधरी का जन्म कब और कहाँ हुआ था?

Answer पुष्पम प्रिया चौधरी का जन्म 13 जून 1994 को बिहार के दरभंगा में हुआ था।

Question Pushpam priya chaudhary father name

Answer पुष्पम प्रिया चौधरी के पिता का नाम विनोद कुमार चौधरी है और वह पूर्व JDU विधायक भी रह चुके है।

Question Pushpam priya chaudhary education

Answer M.A. in Pub. Ad. From London school of economics and political science

Question Pushpam priya chaudhary party name

Answer पुष्पम प्रिया चौधरी के पार्टी का नाम plurals है जिसका चिन्ह सफ़ेद घोड़ा है जिसका पंख बना हुआ है।

Question Pushpam priya chaudhary contact details

Answer उनसे social media पर Pushpam priya chaudhary लिखकर contact किया जा सकता है और plurals toll free number 1800-313-0082 पर संपर्क किया जा सकता है।

Question Pushpam priya chaudhary website

Answer इनका दो website www.pushpampc.com/ और www.plurals.org पर सब कुछ देखा जा सकता है।

अंतिम शब्द

बिहार के बेहतर विकास और अच्छा भविष्य के लिए हम तमाम राजनीतिक पार्टियों को छोड़ हमें इनका साथ देना होगा। बिहार ने सभी का कुशासन देख लिया है अब इनका भी लोगों का देखना चाहिए। कम से कम बिहार की जनता धर्म, जाति से आगे उठकर pushpam priya chaudhary का साथ देकर इन्हे बिहार का एक बार मुख्यमंत्री बनाने का मौका देना चाहिए, जिससे बिहार का खोया सभ्यता और संस्कृति वापस आ जाये।

इस Article में आपने पुष्पम प्रिया चौधरी की जीवनी | Pushpam priya chaudhary biography in hindi के बारें में जाना। आशा करता हूँ आप Pushpam priya chaudhry kaun hai और इनके बारें में पूरी जानकारी जान चुके होंगे।

आपको लगता है कि इसे दूसरे के साथ भी Share करना चाहिए तो इसे Social Media पर सबके साथ इसे Share अवश्य करें। शुरू से अंत तक इस Article को Read करने के लिए आप सभी का तहेदिल से शुक्रिया… 

 

Leave a Comment